Close

    कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण योजना (जिला पूनर्वास केन्द्र, भिवानी)

    यह योजना वर्ष 1983 से प्रारम्भ है। राज्य के निःशक्त का पुनर्वास करने के उद्वेश्य से विभिन्न जिला रैडक्रास समितियों तथा साकेत कौंसिल चण्डीमन्दिर के माध्यम से उनकी जरूरत अनुसार कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण उपलब्ध करवाये जाते हैं । इसकी ऐवज में इन संस्थाओं से प्राप्त कृत्रिम अंग/सहायक उपकरण बिलों की शतप्रतिशत पूर्ति इस विभाग द्वारा की जाती है।

    (रू0 लाखों में)
    वर्ष बजट प्रावधान खर्च हुई राशि

    2017-18

    100.64

    75.25

    2018-19

    102.80

    94.03
    2019-20 106.57 103.30